कार्य एवं उदेश्य

एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” के लक्ष्यों एवं उद्देश्यों के लिए पत्रकारों को उनके अधिकारों एवं कर्तव्यों के प्रति जागरूक करना है, जोकि निम्न प्रकार से हैं:-

  • हरियाणा के उन पत्रकारों को जो समाचार पत्रों के सम्पादक / संवाददाता एवं छायाकार हो, उन्हें संगठित करना।
  • हरियाणा के समाचार पत्रों को अन्य राज्यों की तरह सरकार से मान्यता दिलवाने हेतु उचित कार्यवाही करना।
  • पत्रकारों की दिन-प्रतिदिन बढ़ती हुई राजनैतिक, प्रशासनिक एवं सामाजिक समस्याओं को सुलझाने के लिए उचित कार्यवाही करना।
  • हरियाणा के समाचार पत्रों के प्रोत्साहन के लिए उचित कार्यवाही करना।
  • सरकार व प्रशासन के बीच, प्रशासन व समाज के बीच तथा समाज व सरकार के बीच एक कड़ी का कार्य करना।
  • पत्रकार प्रजातंत्र का चौथे स्तम्भ है। इनके मान सम्मान तथा जान-माल की रक्षा करने हेतु उचित कार्यवाही करना।
  • पत्रकारों को इस बारे में सचेत करना, कि किसी के खिलाफ व्यक्तिगत द्वेष भावना या ईष्र्या से कोई समाचार प्रकाशित ना करें।
  • “एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” बिना किसी भेदभाव के, जातिपाति के, भाई भतिजावाद के शान्ति व स्थिरता बनाये रखेगी तथा भारतीय संविधान के दायरे में रहकर अपना कार्य करेगा। संकीर्ण विचार धाराओं को लेश मात्र भी पनपने नहीं दिया जायेगा और आदर्श व्यवस्था स्थापित करेगा।
  • “एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” सामाजिक, राजनैतिक व नैतिकता के गिरते स्तर के कारणों एवं उनके समाधान के लिए पत्रकारों को इस बारे में प्रसार की ओर विशेष ध्यान देगा तथा पत्रकारों की समस्याओं, अधिकारों, कर्तव्यों व सहायता के लिए पत्रिका, किताबें, पोस्टर, पम्पलेट आदि प्रकाशित करेगा।
  • राज्य में मीडिया सेंटरों की स्थापना करना और समाचारों का आदान-प्रदान करना
  • “एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” उपरोक्त निर्दिष्ट या इनमें से किन्हीं तथा अन्य दूसरे आकस्मिक लक्ष्य को समानुसार निर्दिश्ट होंगे कि प्राप्ति के लिए हर संभव प्रयास करेगा।
  • “एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” की आमदनी, जायदाद एक मात्र उनकी उन्नति के लिए प्रयोग की जाएगी तथा इनका कोई भी भाग ना तो बोनस के रूप में, ना ही लाभ के रूप में किसी सदस्य के नाम प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप में तबदील किया जाएगा।
  • कार्यकारिणी का कोई भी सदस्य जेब खर्च, उधार दी गई राशि के ब्याज, किराये पर दी गई जायदाद के किराये के अलावा “एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” से या इसके किसी भी कार्यालय से कोई वेतन व भत्ता नहीं लेगा।
  • “एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” को इसके मेमारेण्डम के अनुसार अगर कोई लाभ अथवा आमदनी होगी तो वह क्लब के लक्ष्यों व उद्देश्यों की प्राप्ति व उन्नति के लिए खर्च की जाएगी।
  • “एसोसिएशन ऑफ जर्नालिस्ट” का यदि अन्त किया जाता है या भंग किया जाता है तो इसकी सभी देनदारियां व दायित्व चुका देने के बाद भी जायदाद बचेगी तो वह किसी सदस्य को नहीं दी जाएगी और न ही आपस में बांटी जायेगी। बल्कि दूसरी संस्था को दे दी जाएगी। जिसके उद्देश्य एवं लक्ष्य क्लब के समान होंगे।